ये है बाप नम्बरी बेटा दस नम्बरी की कहावत के हकदार, जानकर हैरान रह जाएंगे आप!

779

आज हम आपको सदियों से चली आ रही एक कहावत के बारे में बताने जा रहे है जब हम सब यह कहा करते थे की बाप नम्बरी बेटा 10 नम्बरी, हमें पता है आप भी बड़ी बेताबी से जांनना चाहते होंगे पूरे मामले की सच्चाई, कहते है अपने ही परिवार के लक्षण बच्चो में आते है खासतौर पर माँ बाप पर ही बच्चे जाते है। माँ बाप के ही लक्षण बच्चो में आते है , ठीक वैसे ही ही बॉलीवुड में भी कई बड़े एक्टर्स ऐसे हुए है जिनके बच्चे भी इन दिनों फ़िल्मी बाजार में है । यहाँ जितना ज्यादा पिता ने नाम किया है उस से भी ज्यादा लड़के नाम कमा रहे है जी हां आपको हम बता रहे है उन एक्टर्स के बारे में जिनके बच्चे इस समस्य बॉलीवुड में धमाल मचाये हुए है तो आइये जानते है आखिर कौन कौन इस लिस्ट में शामिल है ।

बड़े बड़े स्टार्स नहीं कमा पाए नाम

आपको बता दे की अगर किसी फिल्म में विलेन की भूमिका को इतना संजीदा दिखा दिया जाए की वो दिमाग में बस जाए तो उसकी उस छवि को निकाल पाना बेहद मुश्किल होता है ऐसे में सबसे पहले हम आपको याद दिलाएंगे उन चुने हुए विलेन के डायलॉग जिसको सुनकर आज भी लोग सिनेमा हाल में शांत हो जाते है , जी हां आपको याद होगा ये डायलॉग जिसको सभी ने पसंद किया ” कितने आदमी थे ” , इतना सन्नाटा क्यों है भाई ” इस तरह के डायलॉग ने अमजद खान को फ़िल्मी जगत का सबसे बड़ा विलेन बना दिया ।

अमजद खान के बेटे भी हुए हिट

आपको बता दे की अमजद खान के बेटे भी बेहद हिट हुए उन्होंने अपने पिता के सिद्धांतो को अब तक ज़िंदा रखा है भले ही वो अधिक फिल्मो में ना आते हो मगर एक फिल्म मेहँदी कर के उन्होंने दर्शको का दिल जीत लिया ।

डैनी डेंजोगप्पा

आपको बता दे की जिसने घातक फिल्म नहीं देखि उसने बॉलीवुड में कुछ नहीं देखा जी हां डैनी फिल्म ने घातक फिल्म में जिन डायलॉग को बोला वो आज भी लोगो की जुबान पर है , ” हमारे साथ काम करोगे लोग डरेंगे तुमसे ” , यही तुम्हारे बाप को कुत्ता बनाया था यही सबके सामने ” इस तरह के डायलॉग ने उनकी अलग छवि बनाई

रिंजिंग डैनागप्पा

आपको बता दे की डैनी के बेटे रिंजिंग भी बहुत जल्द ही बॉलीवुड में डेब्यू की तैयारी में है इस से पहले वो रेलिंग के चैम्पियन रह चुके है ।

गुलशन ग्रोवर

अगर विलेन की बात हो और गुलशन ग्रोवर का नाम ना आये तो दाल में नमक ना होने जैसी बात होगी , जी हां “बैड मैंन ” के नाम से लोग इन्हे जानते है जिन्होंने फिल्मो में बराबर नेगटिव किरदार निभाए ।

संजय ग्रोवर

आपको बता दे की गुलशन ग्रोवर ने जहा बॉलीवुड में खूब नाम कमाया वही उनके बेटे को को फिल्मो में कुछ ख़ास नजर नहीं आया वो एक बड़े बिज़्नेस्मेन में से एक है । और विदेश में उनके कई बड़े ब्रांड चलते है ।

एम् बी शेट्टी

डॉन में किरदारों को अमर करने वाले किरदार में एक किरदार एम् बी शेट्टी भी थे उन्होंने अपने विलन के किरदार को बॉलीवुड में अमर कर दिया उनके सर पर कभी भी बाल नहीं आने दिए ।

रोहित शेट्टी

आपको बता दे की उनके बेटे रोहित शेट्टी है जो भारत की उन फिल्मो के निर्माता है जो करोड़ो रूपए के क्लुब में शामिल है

सुरेश ओबराय

अब बताते है सुरेश ओबराय के बारे में सुरेश ने राजा हिन्दुस्तानी से लेकर ना जाने कितनी ही फिल्मो में नेगटिव किरदार निभाया ।

विवेक ओबराय

अब विवेक ओबराय को कौन नहीं जानता बॉलीवुड के सुपर कूल एक्टर्स में से एक विवेक भी फिल्म जगत में अच्छी पहचान रखते है।

अमरीश पूरी

बॉलीवुड फिल्मो जिसने देखि हो ऐसा हो ही नहीं सकता की वो अमरीश पूरी को ना जानता हो ऐसे में अमरीश पूरी के डायलॉग तो पूरे हाल में हंगामा मचा देते थे उनकी आवाज ने ही लोगो को डरा कर रखा था । उनके फेमस डायलॉग में ” मुग़ैम्बो खुश हुआ” शामिल है

राजिव पूरी

आपको बता दे की उनके बेटे फ़िल्मी दुनिया से दूर है मगर म्यूसिक की दुनिया में उन्होंने अपना बहुत नाम कमाया है ।