दो शादी करने के बाद इन दोनों पत्नियों ने पति का इस तरह से किया बटवारा

1525

आज के समय में लोगो का एक शादी चला पाना मुश्किल हो जाता है क्युकी ये कोई पुराना समय नहीं है की राजा महाराजाओ की तरह 10-10 शादी करलो और मजे से अपनी जिंदगी जिओ क्युकी समय के साथ साथ सबको बदलना पड़ता है पहले महंगाई नहीं होती थी लोग बाग़ आराम से अपना जीवन व्यतीत करते थे लेकिन आज के समय में महंगाई इतनी बढ़ गयी है की अपने आप के लिए भी कभी कभी खाने को पैसे नहीं हो पाते आम लोगो के लिए तो आपने बहुत चीज़ो का बटवारा होते हुए देखा होगा,जैसे की पैसो का, जमीन का, खाने की चीज़ का और भी बहुत सी चीज़ो का लेकिन क्या आपने कभी किसी आदमी का बटवारा होते हुए देखा है, अगर हम आपको बताये की एक आदमी ने 2 शादियां कर रखी है तो आप भी अचम्भित हो जाओगे जी हां नौशाद अली नाम के व्यक्ति ने एक बीवी के रहते हुए दूसरी शादी करली थी जब दोनों बीवियों को पता चला तो उन्होंने तलाक की वजाये अपने पति का ही बटवारा कर डाला।

नौशाद अली मुरादाबाद के मुगलपुरा थाना…

नौशाद अली मुरादाबाद के मुगलपुरा थाना छेत्र में रहता है लेकिन काम वह दिल्ली में करता है, उनका कारोबार दिल्ली में है और इनकी पहली पत्नी का नाम मुमताज है जिनसे इन्हे 7 बच्चे है और अचम्भे की बात तो ये है इन्होने दूसरी भी शादी करली और इनकी दूसरी बीवी का नाम रूही है और इनसे भी 1 बच्चा है और इस तरह से इनके 8 बच्चे है। इस समय एक बच्चा पलना मुश्किल है इन्होने तो 8 कर लिए अब तो इनका भगवान ही मालिक है।

जब नौशाद अली की पहली पत्नी मुमताज…

जब नौशाद अली की पहली पत्नी मुमताज को पता चला तो नौशाद और मुमताज के बीच बहुत लड़ाई हुयी यहाँ तक की मार पिट की भी नौबत आ गयी बात इतनी आगे बढ़ गयी की पुलिस तक ये केस चला गया। बात को बढ़ते हुए देख वह के एसएसपी ने इस मामले को महिला उत्थान केंद्र के पास मामले को भेज दिया। पति पत्नी को महिला उत्थान केंद्र में बुलाया गया और बहुत देर तक पूछताछ होने के बाद दोनों पक्षों के बीच सुलह कराने के पुरे प्रयास किये।

महिला उत्थान केंद्र में दो पक्षों की बात को…

महिला उत्थान केंद्र में दो पक्षों की बात को सुनने के बाद ये नतीजा निकला गया की नौशाद अली अपनी पहली पत्नी से जो 7 बच्चे है उनको प्रतिदिन 300 रूपए देगा। दिल्ली से वापस घर आने के बाद वह पहली पत्नी के साथ एक दिन रहेगा और रात फिर अगले दिन वह दूसरी पत्नी के साथ रहेगा और ऐसे ही चलता रहेगा एक दिन एक बीवी के और अगले दूसरी बीवी के साथ रहेगा, और तीनो इस बात से सहमत हो गए और नौशाद अली को अपनी पहली बीवी के 7 बच्चो की पूरी तरह से जिम्मेदारी उठानी पड़ेगी।

हम आपको बता दे की रांची में भी पहले…

हम आपको बता दे की रांची में भी पहले ऐसा मामला आया था सामने 20 जनवरी को दो पत्नियों ने अपने पति को आपस में बाट लिया था उनका महिला उत्थान केंद्र में ये तय हुआ था की 3-3 दिन रहेगा पति अपनी पत्नियों के साथ। लेकिन पति अपनी पहली पत्नी के साथ 5 तक तक रहा और घर नहीं आया फिर पुलिस ने बुलाकर उसको समझाया की ऐसा नहीं चलेगा आपको 3-3 दिन ही रहना पड़ेगा तब जाकर वह अपनी दूसरी पत्नी के पास गया।