अगर आपके नाख़ून भी ख़राब हो रहे है तो हो जाएँ सावधान, इन बीमारी का दे रहे है संकेत

1401

नाख़ून हमारे शरीर के लिए बेहद खास है, नाखुनो को देख कर हम लोग आसानी से अपने स्वास्थ का पता लगा सकते है अगर किसी भी व्यक्ति के नाख़ून सफ़ेद या धब्बेदार हो तो उसे कोई बीमारी है, और वो बीमारी लिवर और फेफड़ो को लेकर होती है और ह्रदय से भी जुडी होती है। अगर आपके नाख़ून नीले रंग के हो गए है तो आपको ओक्सिजन की कमी है। और अगर आपके नाखून एक दम लाल और सही दिख रहे है तो कोई दिक्कत नहीं है। आपके शरीर का ब्लड सर्कुलेशन बिलकुल सही प्रकार से चल रहा है। और बहुत से लोगो के नाख़ून बहुत ही कमजोर होते है जो की आसानी से टूट जाते है। और इस कमजोरी की बहुत सी वजह होती है जो की आज हम आपको बताएंगे।

एनीमिया की कमी

अगर शरीर में खून की कमी होती है तब ही नाख़ून कमजोर हो जाते है और आसानी से टूट जाते है और जिन लोगो को एनीमिया की बीमारी होती है उनके नाख़ून अक्सर ख़राब और कमजोर होते है। इनको अपने खाने में पर्याप्त आयरन नहीं मिल पाता जिसकी वजह से ऐसा होता है। इस कमी को पूरा करने के लिए रोज हरी सब्जी और दूध का सेवन करे जिससे आपके शरीर में आयरन की कमी नहीं होगी।

मॉइश्चर की कमी

मॉइश्चर की कमी के कारण भी आपके नाख़ून टूटने लग जाते है अगर आपके शरीर में मॉइश्चर की कमी होगी तो आपकी स्किन ड्राई रहेगी जिससे नाख़ून टूटने लग जाते है अपने नाख़ून को समय समय पर मॉइश्चर करते रहे उसके लिए आप अपने नाखुनो पर घी और मलाई रात में लगा सकते है जिससे आपके नाख़ून मॉइश्चर हो जाएंगे।

थायराइड का होना

थायराइड की कमी के कारण भी नाख़ून बहुत ही कमजोर हो जाते है और टूटने लगते है और इसके अलावा विटामिन की भी कमी होने के कारण नाख़ून टूटने लग जाते है तो आज से ही अपनी डाइट में विटामिन से भरपूर चीज़े शामिल करे और अपना थायराइड समय समय पर चेक कराते रहे।

नेल पेंट अधिक इस्तेमाल करना

नेल पेंट में कई प्रकार के केमिकल पाए जाते है जिसके कारण ये होता है अगर कोई भी महिला अधिक नेल पेंट का उपयोग करती है तो उसके नाख़ून पीले पद जाते है और कमजोर होकर टूटने भी लग जाते है तो आप नेल पेंट का अधिक उपयोग न करे और नाखुनो की देखभाल अच्छे से करे और अगर नाखुनो का रंग बदल रहा है तो सबसे पहले डॉक्टर से अवश्य मिले।