महिला ने पीरियड्स में निकलने वाले ब्लड से किया ऐसा काम सुनकर हैरान हो जाएंगे

1394

महिलाओ को हर महीने मासिक धर्म से गुजरना पड़ता हैं और इस दौरान इन्हे काफी तकलीफो का सामना करना पड़ता हैं। अपन इस तल्किफ को अमेरिका की एक महिला ने बहुत ही खूबसूरत पेंटिंग से जाहिर की। जी हाँ दोस्तों महिला ने अपने मासिक धर्म के खून से एक पेंटिंग बनाई। आप की जानकारी के लिए बता दे की इस महिला का नाम टिमी पाली हैं और इन्होने बहुत ही अध्भुत पेटिंग बनाई हैं। टिमी ने करीब 4 महीनो तक अपने मासिक धर्म का खून इखट्टा किया और उससे चार कैनवास पर गर्भ में पल रहे बच्चे का चित्रण किया। तस्वीर के बारे में टिमी का कहना हैं की ये तस्वीर मातृत्व के महत्व को बयां करती है। उन्होंने कहा कि वे इस पेंटिंग के जरिए एक कलाकृति ‘स्टार्ट ऑफ द एंड’ (अंत की शुरूआत) को जन्म दिया जो गर्भ में पल रहे एक बच्चे को दिखाती है।

दुनिया के सामने आयी पेंटिंग

ये परेशानी महिलाओं के साथ ये समस्या ना हो तब महिलाओ को और बड़ी परेशानी का अनुभव करना पड़ता हैं क्योंकि हर महिला का सपना होता है की उसे मातृत्व का सुख प्राप्त हो और यदि महिलाओं में मासिक धर्म ना हो तो गर्भधारण नहीं हो सकता इसीलिए महिलाओ को मासिक धर्म आना बहुत जरुरी होता हैं।लेकिन आज हम आपको एक महिला के बारे में बताने वाले है जो अपने मासिक धर्म से निकलने वाले खून के साथ कुछ ऐसा काम कर डाली जिसके बाद कई लोग तो उसकी प्रशंसा कर रहे है तो वहीँ कुछ लोग उसके काम को शर्मनाक भी बता रहे है।

तिमि है अपने इस काम से खुश

टिमी का कहना है की महिलाओं में होने वाले इस पीरियड को लोग अलग अलग नजरिये से देखते है कई लोग तो इसे गंदा समझते है तो वही कुछ लोग पीरियड के दौरान महिलाओं को अपवित्र समझते है जबकि हर कोई इस बात से वाकिफ है की इसी पीरियड के ब्लड से एक पुरुष पिता बनता है और एक स्त्री माँ बनती है तो फिर ये ब्लड अपवित्र कैसे हो सकता है। इसीलिए महिला ने अपने पीरियड के ब्लड से ये शानदार पेंटिंग बना डाली है।

कई फिल्मे भी बन चुकी है इस बीमारी पर

आपको बता दे की भारत में अक्षय कुमार ने इस मामले पर एक गंभीर फिल्म भी बनाई जिसका नाम था पैडमैन जो काफी सफल फिल्मो ,में से एक है। बावजूद इसके आज भी कई महिलाए ऐसी है जो पेड का इस्तेमाल गलत मानती है।

लोगो की सोच है छोटी

ऐसे में तिमि को लगातार लोग बदनाम करने में लगे हुए है जबकि उसने मात्र इस से होने वाले दर्द को सबके सामने रखा है।